Skip to main content

Posts

Featured

वो जो किस्सों से भी पुराना है

बूढ़ा बरगद नाम क्यों? बरगद का पेड़ हिंदुस्तानी सभ्यता में एक बुजुर्ग की भूमिका निभाता है। उस बुजुर्ग की, जो सबसे ज्यादा बूढ़ा और सबसे ज्यादा पुराना होता है। वो बुजुर्ग जब किस्से सुनाता है तो लगता है कि जैसे किस्से हज़ारों साल पुराने हैं और किस्सों से भी पुराना है वो बूढा बरगद। तो फिर किस्सागोई करने के लिए इस से बढ़िया नाम क्या हो सकता है भला? और फिर किस्से सुनाने का हुनर भी तो उन बूढ़े बरगदों से ही हमने भी सीखा है।

Latest Posts

पाठक का दुःख

बोरियत भरी दुपहरी

एक गिल्लू मेरा भी

उफनती जवानी के नाम एक खत

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : १०

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : ९

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : ८

किंडल बुक अपडेट पर एक विमर्श

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : ७

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : ६

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : ५

हरी मुस्कुराहटों वाला कोलाज़ : एक हैंगओवर

मैं किंडल क्यों पढता हूँ ?

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : ४

मिथक या इतिहास

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : ३

वो इश्क़ और वो मोहब्बत : २

प्रेतबाधा

व्यंग्य

घायल वसंत

टूटता तारा